ब्रेकिंग न्यूज़

West Bengal: बंगाल में BJP को लग सकता है बड़ा झटका, इस दिग्गज नेता ने दिए TMC में जाने के संकेत

West Bengal Politics: पश्चिम बंगाल में भाजपा के कई नेता पार्टी छोड़कर टीएमसी में शामिल हो चुके हैं. अब उपाध्यक्ष अर्जुन सिंह के तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने की संभावना जताई जा रही है.

West Bengal Politics: पश्चिम बंगाल में विधान सभा चुनाव खत्म होने के बाद से भाजपा के कई नेता टीएमसी का दामन थाम चुके हैं. भाजपा नेताओं के पार्टी से इस्तीफे का दौर अब भी जारी है. अब पश्चिम बंगाल के भाजपा उपाध्यक्ष अर्जुन सिंह के बारे में कहा जा रहा है कि वे टीएमसी में शामिल हो सकते हैं.

टीएमसी में शामिल हो सकते हैं अर्जुन सिंह

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक पश्चिम बंगाल भाजपा के उपाध्यक्ष अर्जुन सिंह ने संगठन में एक वरिष्ठ पद पर रहने के बावजूद उन्हें ठीक से काम करने की अनुमति नहीं देने की बातें कही हैं. उन्होंने राज्य में भाजपा नेतृत्व को लेकर भी सवाल उठाए हैं. सूत्रों ने कहा कि उनके तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) में शामिल होने की संभावना है.

जूट की कीमतों को लेकर उठाई थी मांग

सिंह की टिप्पणी शुक्रवार को केंद्र सरकार द्वारा जूट की कीमतों को 6,500 रुपये प्रति क्विंटल पर सीमित करने की अधिसूचना को वापस लेने की घोषणा के बाद आई है. इसे लेकर अर्जुन सिंह और अन्य उद्योग हितधारक पिछले कुछ हफ्तों से मांग कर रहे थे.

जेपी नड्डा से की मुलाकात

सिंह ने कहा कि मैंने हाल ही में हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की और उन्हें पार्टी की राज्य इकाई की स्थिति के बारे में बताया. समर्पित कार्यकर्ताओं को उनकी उचित मान्यता नहीं दी जाती है. राज्य उपाध्यक्ष होने के बावजूद, मुझे ठीक से काम करने की अनुमति नहीं है. बता दें कि अर्जुन सिंह 2019 में टीएमसी से भाजपा में शामिल हुए हैं.

अभिषेक बनर्जी से मुलाकात करेंगे

सूत्रों ने यह भी बताया कि सिंह ने हाल ही में जूट मिल के मुद्दे को उठाते हुए भाजपा की राज्य इकाई में गुटबाजी को लेकर भाजपा के शीर्ष अधिकारियों से मिलने के लिए दिल्ली की यात्रा की थी. सिंह ने बड़े पैमाने पर विरोध शुरू करने की चेतावनी भी दी थी. सूत्रों की मानें तो सिंह तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने पर बातचीत करने के लिए अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस महासचिव अभिषेक बनर्जी से मुलाकात करेंगे.

अमित शाह के दौरे के बाद सियासी हलचल

उधर, भाजपा नेता समिक भट्टाचार्य ने एएनआई को बताया कि पार्टी के साथ रहना या न रहना पूरी तरह से उनका फैसला है. यह घटनाक्रम इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि यह केंद्रीय मंत्री अमित शाह के राज्य के दौरे के ठीक बाद आया है

Related posts

टीम इंडिया से 3 मैचों में ही हुई इस खिलाड़ी की छुट्टी,करियर बचाने के लिए उठाया ये बड़ा कदम

Anjali Tiwari

Mamata Banerjee: ‘हिटलर, स्टालिन और मुसोलिनी से भी बदतर है बीजेपी का शासन’, जानें केंद्र पर निशाना साधते हुए सीएम ममता बनर्जी ने ऐसा क्यों कहा

Anjali Tiwari

Osama Bin Laden: 9/11 जैसे कई आतंकी हमले करना चाहता था ओसामा बिन लादेन, दस्तावेजों में चौंकाने वाले खुलासे

Anjali Tiwari

Leave a Comment