ब्रेकिंग न्यूज़

बिहार में ‘सुपारी’ पॉलिटिक्स, कौन है RJD के ‘सीक्रेट एजेंट’ जिसके निशाने पर नीतीश कुमार?

Bihar Politics: दो दिन पहले आरजेडी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने पीके पर नीतीश कुमार और तेजस्वी की राजनीति बदनाम करने की सुपारी लेने का आरोप लगाया गया था। अब बीजेपी ने जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह पर नीतीश कुमार को बर्बाद करने के लिए आरजेडी से सुपारी लेने का आरोप लगाया गया है।

 बिहार में महागठबंधन की सरकार बनते ही सत्ता से विपक्ष में आए बीजेपी की ओर से बयानों का ज्यादातर गोला नीतीश कुमार ( CM Nitish Kumar ) पर ही गिराया जा रहा है। हालांकि बीजेपी की ओर से नीतीश कुमार के सहयोगी पार्टियों पर भी निशाना साधा जा रहा है लेकिन टारगेट पर नीतीश कुमार ही हैं। बिहार की राजनीति में बयानों पर वार पलटवार के बाद अब, नीतीश कुमार को राजनीतिक तौर पर उखाड़ फेंकने की ‘सुपारी’ लेने वाली पॉलिटिक्स भी चल रही है। बीजेपी का दावा है कि ललन सिंह अब लालू प्रसाद की कंपनी RJD के ‘सीक्रेट एजेंट’ बन कर मिशन में जुटे हुए हैं।
बिहार बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष और प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि पिछड़ा-अतिपिछड़ा समाज का आरक्षण समाप्त करवाने में ललन सिंह का बड़ा हाथ है। बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि ललन सिंह अब पिछड़ा अति पिछड़ा समाज के आइकॉन बन चुके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Narendra Modi ) को गलियां दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष यह अनायास नहीं बल्कि सोची समझी साजिश के तहत कर रहे हैं। बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि दरअसल ललन सिंह, RJD से नीतीश के राजनीतिक विध्वंस की सुपारी ले चुके हैं। इसलिए ललन सिंह जानबुझकर वह सारे काम कर रहे हैं, जिससे नीतीश कुमार की छवि और उनका वोट बैंक ध्वस्त हो जाए।
बीजेपी प्रदेश प्रवक्ता ने यह भी कहा कि ललन सिंह जानते हैं कि पिछड़ा और अतिपिछड़ा समाज में प्रधानमंत्री मोदी के प्रति जबर्दस्त दीवानगी है। इसीलिए JDU के एनडीए (NDA) में रहते हुए यह समाज नीतीश कुमार को भी दिल खोलकर वोट देता था, जिसे नीतीश अपनी खुद की ताकत मान बैठे थे। नीतीश कुमार के बार-बार पलटी मारने से इस समाज का एक बहुत बड़ा हिस्सा उनसे पहले ही दूर जा चुका है और अब बचे-खुचे भी उनसे दूर भाग जाए, इसलिए ललन सिंह जानबुझकर इस तरह के उटपटांग हरकतें कर रहे हैं।
बीजेपी प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि नीतीश कुमार ने जिस तरह से ललन सिंह को अपमानित कर JDU से निकाला था, उसे वह भले ही भूल गये हों, लेकिन ललन सिंह उसे बिल्कुल नहीं भूले हैं। इसी तरह RJD भी नीतीश के हाथों अपनी बेइज्जती नहीं भूला है। दोनों ने नीतीश को जड़ से उखाड़ फेंकने की कसमें खायी थीं। यही वजह है कि ललन सिंह अब लालू प्रसाद की कंपनी RJD के ‘सीक्रेट एजेंट’ बन कर उस मिशन को पूरा करने में दिन रात जुटे हुए हैं। इधर नीतीश कुमार भी ललन सिंह के बुने जाल में पूरी तरह उलझ चुके हैं और खुद ही आश्रम जाने के मार्ग पर बढ़ रहे हैं।
राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा था कि प्रशांत किशोर को बताना चाहिए कि उनकी राजनीति क्या है ? और वे किस मकसद से बिहार में पदयात्रा कर रहे हैं। क्या वे गांधी को गाली देने वालों के साथ हैं ? शिवानंद तिवारी ने कहा कि देश में आज मुसलमानों के विरूद्ध जो नफरत और घृणा का अभियान चलाया जा रहा है, क्या उसका वे समर्थन कर रहे हैं ? क्योंकि बिहार की राजनीति में अबतक किसी भी राजनीतिक दल ने अपने राजनीतिक अभियान की इतनी महंगी शुरुआत नहीं की होगी जैसा पीके ने किया है।

शिवानंद तिवारी ने यह भी कहा कि PK ने अब तक गांधी को खलनायक और नाथूराम गोडसे को नायक बताने वालों की राजनीति के विषय में अपना मुंह नहीं खोला है। न ही उन्होंने सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के विरोध में कुछ बोला है। PK अपनी पदयात्रा में लालू , नीतीश और तेजस्वी पर ही निशाना साध रहे है। शिवानंद तिवारी ने कहा कि प्रशांत किशोर ने अपने चुनावी प्रबंधन की शुरुआत नरेंद्र मोदी के 2014 के चुनाव से ही की थी। इसलिए यह साफ होता है कि, कहीं ऐसा तो नहीं कि पीएम मोदी के प्रति PK का पुराना प्रेम उमड़ गया है ! इसलिए उस बिहार में, जहां मोदी जी को सबसे ज्यादा चुनौती मिल रही है, उसी चुनौती को कमजोर करने की PK ने BJP से सुपारी ले ली है?

Related posts

‘अखंड भारत’ टिप्पणी पर पाकिस्तान का आया बयान

Anjali Tiwari

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने मथुरा जिला जज के इस आदेश पर लगाई रोक,

Swati Prakash

दिल्ली में भी दुमका जैसा कांड

Anjali Tiwari

Leave a Comment