ब्रेकिंग न्यूज़

100वें जन्मदिन पर मां के पैर धोकर पीएम मोदी ने लिया आशीर्वाद, हीराबा के नाम पर होगी सड़क

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आज गुजरात दौरे का दूसरा दिन हैै। पीएम मोदी आज गुजरात के पंचमहाल जिले में पावागढ में पहाड़ी के शिखर पर बने कालिका माता के मंदिर को देशवासियों को समर्पित करेंगे। इस ऐतिहासिक मंदिर से लाखों श्रद्धालु जुड़े हुए हैं और सभी उसके पुनरुद्धार से बहुत खुश हैं। आज 18 जून को पीएम मोदी की मां हीराबा का 100वां जन्म दिन भी है। इस खास मौके पर वे गांधीनगर स्थित आवास पर अपनी मां से मिलने पहुंचे और उनसे आशीर्वाद लिया। इस खास मौके पर हीराबा के नाम पर गांधीनगर में एक सड़क का नामकरण भी होगा। इस सड़क को पूज्य हीराबा मार्ग नाम दिया जाएगा। प्रधानमंत्री के छोटे भाई पंकज मोदी ने कहा, हीराबा का जन्म 18 जून 1923 को हुआ था।

सड़क का नाम होगा ‘पूज्य हीरा मार्ग’

गांधीनगर मेयर हितेश मकवाना ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी की मां हीराबा 100 साल की हो गई है। इस मौके पर लोगों की मांग और भावनाओं को ध्यान में रखते हुए रायसण पेट्रोल पंप से 80 मीटर सड़क अब पूज्य हीराबा मार्ग के नाम से जाना जाएगा। इसका मकसद उनका नाम आने वाली पीढ़ियों तक पहुंचाना है। उन्होंने बताया कि हीराबेन का नाम हमेशा जीवित रखने और आने वाली पीढ़ियों के लिए त्याग, तपस्या, सेवा और कर्तव्यनिष्ठा का पाठ सीखने के उद्देश्य से 80 मीटर की सड़क का नाम बदलने का निर्णय लिया गया।

पैर धोकर लिया आशीर्वाद

पीएम मोदी गुजरात के गांधीनगर स्थित आवास पर अपनी मां हीरा बा से मिलने पहुंचे। प्रधानमंत्री ने मां के चरण धोए और अपने हाथों से मिठाई खिलाई इसके बाद आशीर्वाद लिया। इस मौके पर वडनगर के हाटकेश्वर मंदिर में पूजा का आयोजन किया गया है। बताया जा रहा है कि सुंदर काण्ड के पाठ से लेकर शिव आराधना तक की जाएगी। प्रधानमंत्री की मां उनके छोटे भाई पंकज मोदी के साथ रहती हैं। मोदी पिछली बार मार्च माह में अपनी मां से मिले थे।

अच्छे स्वास्थ्य के लिए धार्मिक कार्यक्रम

पीएम के गृहनगर वडनगर में हतकेश्वर महादेव मंदिर में हीराबा के अच्छे स्वास्थ्य और लंबे जीवन के लिए धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। इस दौरान भजन संध्या, शिव आराधना और सुंदरकांड पाठ होगा। मोदी के परिजनों ने इस दिन अहमदाबाद के जगन्नाथ मंदिर में दोपहर भोज का आयोजन भी किया गया है। मोदी परिवार ने उस दिन अहमदाबाद के जगन्नाथ मंदिर में भंडारा आयोजित करने की भी योजना बनाई है।

Related posts

ब्रिटेन में भी महाराष्‍ट्र की तरह की ‘बगावत’, तंग आकर बोरिस जॉनसन छोड़ेंगे PM की कुर्सी

Swati Prakash

इंटरनेशनल योगा डे 2022

Swati Prakash

Mamata Banerjee: ‘हिटलर, स्टालिन और मुसोलिनी से भी बदतर है बीजेपी का शासन’, जानें केंद्र पर निशाना साधते हुए सीएम ममता बनर्जी ने ऐसा क्यों कहा

Anjali Tiwari

Leave a Comment