ब्रेकिंग न्यूज़

उदयपुर हत्याकाण्ड के विरोध में बंद रहे बाजार, फांसी की मांग

उदयपुर में कन्हैयालाल की गला रेतकर हत्या करने के विरोध में बुधवार को सांगरिया फांटा क्षेत्र के व्यापारियों ने बाजार बंद रखकर रोष व्यक्त किया। साथ ही धरना देकर हत्यारों को फांसी पर चढ़ाने की मांग की गई।

सांगरिया फांटा व्यापार मण्डल के आह्वान पर सुबह क्षेत्र के व्यापारी एकत्रित हुए और कन्हैयालाल हत्याकाण्ड को लेकर विरोध जताने लगे। व्यापारियों ने बाजार नहीं खोले। इसका पता लगने पर पुलिस वहां पहुंची। सांगरिया फांटा व आस-पास के व्यापारियों ने स्वैच्छिक बाजार बंद रखे और हत्यारों को फांसी की सजा दिलाने की मांग की।
व्यापारी पास ही खाली भूखण्ड में धरना देकर बैठ गए। हाथों में तख्तियां व बैनर लिए व्यापारियों ने कन्हैयालाल के हत्यारों को जल्द से जल्द फांसी की सजा दिलाने की मांग की। धरना देने वालों को संबोधित करने के दौरान भी हत्यारों को फांसी पर लटकाने की मांग पर बल दिया गया। व्यापारियों के विरोध के चलते सहायक पुलिस आयुक्त चक्रवतीसिंह राठौड़ व बासनी थानाधिकारी पाना चौधरी के साथ ही अन्य पुलिसकर्मी तैनात रहे। इस दौरान कोई भी अप्रिय घटना नहीं हुई।
अपराध के खिलाफ आवाज उठाएं, दोषियों को सजा दिलाएं
जोधपुर। माता का थान थानान्तर्गत कीर्ति नगर के सेक्टर सी िस्थत पार्क में बुधवार शाम महिला सुरक्षा सखियों की बैठक आयोजित की गई। पुलिस कमिश्नर रविदत्त गौड़ ने क्षेत्र की महिलाओं को कानूनी अधिकारों के प्रति जागरूकत करते हुए अपील की कि वे आस-पास होने वाले अपराध के खिलाफ आवाज उठाएं और दोषियों को सजा दिलाने में मदद करें।
सहायक पुलिस आयुक्त (मण्डोर) राजेन्द्र प्रसाद दिवाकर ने बताया कि राज्य सरकार व पुलिस मुख्यालय की ओर से सोशल पुलिसिंग को बढ़ावा देने व जनता और पुलिस के बीच संवाद बेहतर करने के उद्देश्य से महिला सुरक्षा सखी योजना शुरू की गई है।
इसी के तहत मण्डोर वृत्त की महिला सुरक्षा सखियों की बैठक हुई। पुलिस कमिश्नर रविदत्त गौड़ ने महिलाओं को अपराध व अपराधियों के खिलाफ आवाज उठाने और अपने आस-पास होने वाली अपराधिक गतिविधियों के संबंध में सूचनाएं देने का आग्रह किया। साथ ही उत्पीड़न से बचने के लिए बने कानूनों के बारे में जानकारी भी दी गई।
नव नियुक्त पुलिस उपायुक्त (पूर्व) डॉ अमृता दुहन ने सरकारी योजनाओं व कानूनों के बारे में जानकारी देते हुए अपराध नियंत्रण में महिलाओं से आगे आने की अपील की। बैठक में करीब साठ सुरक्षा सखियों व अन्य महिलाओं ने हिस्सा लिया। इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (महिला अपराध व अनुसंधान सैल) निशांत भारद्वाज, थानाधिकारी निशा भटनागर भी मौजूद रहे।

Related posts

पुलिस और गैंगस्टर्स के बीच एनकाउंटर खत्म, मारे गए मूसेवाला की हत्या से जुड़े दोनों आरोपी

Swati Prakash

पटाखों पर प्रतिबंध मामले में SC में 10 अक्तूबर को सुनवाई

Anjali Tiwari

दिल्ली मे बाइक स्वार बदमाशों ने लूटी फॉर्च्यूनर, वारदात CCTV में कैद

Anjali Tiwari

Leave a Comment