ब्रेकिंग न्यूज़

Loudspeaker Row: राज ठाकरे पर राउत का पलटवार, बोले- हिंदुत्व के लिए आज काला दिन, नहीं सुन सके मंदिर की आरती

Sanjay Raut reacts on Loudspeaker controversy: लाउडस्पीकर विवाद पर अब शिवसेना नेता संजय राउत ने बयान दिया है. उन्होंने इसे हिंदुत्व के लिए काला दिन बताते हुए बीजेपी पर निशाना साधा

Sanjay Raut reacts on Loudspeaker controversy: महाराष्ट्र में जारी लाउडस्पीकर विवाद पर अब शिवसेना नेता संजय राउत ने बयान दिया है. उन्होंने इसे हिंदुत्व के लिए काला दिन बताते हुए बीजेपी पर निशाना साधा. अपने बयान में राउत ने यह भी कहा कि इस विवाद का खामियाजा मंदिरों को भी भुगतना पड़ेगा.

‘सभी धर्मों के लिए एक समान नियम’

उन्होंने कहा लाउडस्पीकर का नियम सभी के लिए है, सिर्फ मस्जिदों के लिए नहीं. वे बोले महाराष्ट्र में जो लाउडस्पीकर का विवाद है इसके पीछे बीजेपी है. BJP राज ठाकरे का इस्तेमाल करके हिंदू-हिंदू मे विवाद पैदा करना चाहती है. जो बड़े मंदिर हैं उनमें सभी लोग अंदर नहीं जा सकते हैं. मंदिरों में सीमित लोगों की एंट्री होती है.

मंदिरों को भी भुगतना पड़ेगा खामियाजा

आज कई लोग लाउडस्पीकर से आरती नहीं सुन सके. इस वजह से मंदिर के बाहर जमा लोगों ने नाराजगी जताई है. उन्होंने कहा नियम सभी प्रार्थना घरों के लिए हैं. इसका पालन करना है तो मंदिरो को भी खामियाजा भुगतना पड़ेगा. उन्होंने कहा शिरडी में, त्र्यंबकेश्वर में मंदिर के बाहर खड़े लोग आरती नहीं सुन पाए. राउत ने कहा ये आदोलन हिंदुओ में फूट डालने का काम करेगा.

मनसे प्रमुख ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस

बता दें महाराष्ट्र में यह मुद्दा कई दिनों से तूल पकड़ रहा है. ऐसे में आज मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि हम कानून का पालन करवा रहे हैं और सिर्फ सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करवा रहे हैं. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि महाराष्ट्र में 92 प्रतिशत मस्जिदों में लाउडस्पीकर पर आजान नहीं हुआ. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार, 45 से 55 डेसीबेल से ज्यादा आवाज में लाउडस्पीकर नहीं बजाया जाना चाहिए. इसका मतलब है जितनी तेज आवाज हमारे घरों में मिक्सी से आती है. हमारा विषय उन्होंने समझा, इसलिए उनका आभार. हम हमेशा से कहते आए हैं कि यह मुद्दा धार्मिक नहीं, बल्कि सामाजिक है.

Related posts

Airtel-Jio को कड़ी टक्कर देने के लिए गौतम अडानी तैयार! मिला फुल टाइम लाइसेंस

Swati Prakash

एक ही परिवार के 4 लोगों को गर्म सरिए से दागा, उन्हें जबरन मल-मूत्र पिलाया गया

Anjali Tiwari

संबंधी याचिका के लिएआईआईटी स्नातक पर कोर्ट ने लगाया 50,000 का जुर्माना

Anjali Tiwari

Leave a Comment