ब्रेकिंग न्यूज़

IPL 2022: इन 3 धुरंधरों के कमाल से जीती दिल्ली कैपिटल्स, पंजाब किंग्स को कर दिया चारों खाते चित

IPL 2022: रविवार को खेले गए IPL मैच में अक्षर और कुलदीप की ओर से स्पिन का जादू दिखाने से पहले, शार्दुल ठाकुर ने पावरप्ले के अंतिम ओवर में भानुका राजपक्षे और शिखर धवन को आउट कर पंजाब को दबाव में ला दिया था.

IPL 2022: पंजाब किंग्स की बल्लेबाजी लाइनअप के साहस और आक्रामकता के बावजूद आईपीएल 2022 के अपने पिछले 7 मैचों में स्पिन के खिलाफ उनका खेल फ्लॉप रहा है. दिल्ली के खिलाफ भी पंजाब की टीम ने स्पिन के आगे घुटने टेक दिए. ब्रेबोर्न स्टेडियम में इन दोनों ही टीमों के बीच पहली भिड़ंत में अक्षर पटेल, कुलदीप यादव और ललित यादव ने संयुक्त रूप से कमाल दिखाया था, जहां 10 ओवरों में पंजाब ने 4.50 की रन रेट से औसत से 45 रन बनाए और 6 विकेट गंवाए. टीम ने 115 रन बनाए थे, जिसे दिल्ली ने आसानी ने 10.3 ओवर में बना लिया.

इन 3 धुरंधरों के कमाल से जीती दिल्ली कैपिटल्स

रविवार को खेले गए IPL मैच में अक्षर और कुलदीप की ओर से स्पिन का जादू दिखाने से पहले, शार्दुल ठाकुर ने पावरप्ले के अंतिम ओवर में भानुका राजपक्षे और शिखर धवन को आउट कर पंजाब को दबाव में ला दिया था.

पंजाब किंग्स को कर दिया चारों खाते चित

मैच के बाद ठाकुर ने कहा, ‘मुझे लगता है कि छठा ओवर बड़ा ओवर था, जहां मुझे दो विकेट मिले. तेज गेंदबाज रन के लिए जा रहे थे और जैसे ही पावरप्ले समाप्त हुआ, अचानक रन रुक गए. इसलिए, छठे ओवर में दो विकेट लेना बहुत महत्वपूर्ण था, और उसके बाद स्पिनरों ने हमारे लिए काम किया और बहुत अच्छा काम किया.’

कुलदीप की गुगली से लिविंगस्टोन चूक गए

ठाकुर की डबल स्ट्राइक के बाद, अक्षर ने काम संभाला और मयंक अग्रवाल को आउट किया. वहीं, कुलदीप की गुगली से लिविंगस्टोन चूक गए और पंत द्वारा आसानी से स्टम्प हो गए. संयोग से, दिल्ली के खिलाफ उनके दोनों आउट स्टंपिंग के जरिए हुए हैं.

जितेश शर्मा ने अपने 44 रन के साथ कड़ा संघर्ष किया

इसके बाद दिल्ली के गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत टीम 82/7 पर पहुंच गई. हालांकि जितेश शर्मा ने अपने 44 रन के साथ कड़ा संघर्ष किया और राहुल चाहर ने लंबी पारी खेली, हालांकि यह पंजाब के लिए दिल्ली के स्पिनरों के खिलाफ निराशाजनक प्रदर्शन को कवर करने के लिए अपर्याप्त था.

पंजाब ने कैसे गंवाया मैच?

मयंक अग्रवाल ने कहा, ‘हमने अच्छी बल्लेबाजी नहीं की. 5 और 10 ओवर के बीच, हमने बहुत सारे विकेट खो दिए और यहीं पर हमने खेल गंवा दिया. मुझे लगा कि यह निश्चित रूप से हमारे पास बल्लेबाजी के लिए पीछा करने योग्य था और विकेट उतना खराब नहीं था जितना लग रहा था. हमने पांचवें और 10वें ओवर के बीच बहुत सारेविकेट गंवाए और वहां मैच गंवा दिया.’ जाहिर है, पांच-दस ओवर के चरण में 14 रन के भीतर पांच विकेट गंवाना पंजाब के लिए मैच गंवाने वाला साबित हुआ और दिल्ली खेमे में अपार खुशी लेकर आया.

Related posts

Team India: टी20 में कहर मचाने के बाद अब टेस्ट में भी खेलेगा टीम इंडिया का ये खिलाड़ी! बल्ले से मचाता है तबाही

Anjali Tiwari

सौरव गांगुली के BCCI से बाहर होने पर सियासी घमासान तेज!, TMC और BJP में छिड़ा युद्ध

Swati Prakash

देश और दुनिया में 25 जून का इतिहास

Swati Prakash

Leave a Comment