ब्रेकिंग न्यूज़

नोटबंदी के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज, कार्यवाही की होगी लाइव स्ट्रीमिंग

 इसके लिए 5 जजों की बेंच का गठन किया गया है, जिसमें जस्टिस एस अब्दुल नजीर, जस्टिस बीआर गवई, जस्टिस एएस बोपन्ना, जस्टिस वी. रामासुब्रमण्यन व जस्टिस बीवी नागरत्ना शामिल हैं। इस कार्यवाही की लाइव स्ट्रीमिंग होगी, जिसे आप https://webcast.gov.in/scindia वेबसाइट और यूट्यूब पर भी देख सकते हैं। दरअसल 27 सितंबर सार्वजनिक व संवैधानिक महत्व के मामलों की कार्यवाही की लाइव स्ट्रीमिंग शुरू हो गई है, जिसके तहत इस मामले की भी सुनवाई होगी।
इससे पहले नोटबंदी की संवैधानिक वैधता को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर पिछले महीने 28 सितंबर को सुनवाई होने वाली थी, लेकिन 5 जजों वाली बेंच ने यह कहते हुए इस मामले की सुनवाई को टाल दिया था कि कोर्ट के पास कई जरूरी अधिकारों से जुड़े मामले हैं।
नोटबंदी के फैसले को लेकर दायर की गई हैं 59 याचिकाएं
नोटबंदी के फैसले को याचिका के माध्यम से पहली बार चुनौती 2016 में विवेक शर्मा नाम के याचिकाकर्ता ने दी थी, जिसके बाद से अब तक 58 अन्य याचिकाएं सुप्रीम कोर्ट में दायर की जा चुकी हैं। इन सभी याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट आज सुनवाई करेगा।

8 नवंबर 2016 की रात में 500 और 1000 की नोटों को किया गया था बंद
6 साल पहले 8 नवंबर 2016 को रात 8 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित करते हुए नोटबंदी का ऐलान किया था, जिसके तहत 8 नवंबर की रात 12 बजे से 500 और 1000 रुपए नोटों को बंद कर दिया गया था।

नोटबंदी के फैसले से मौलिक और आजादी के अधिकारों का हुआ उल्लघंन?
सुप्रीम कोर्ट में याचिकाओं के माध्यम से नोटबंदी के फैसले से मौलिक, संपत्ति, आजादी सहित कई अधिकारों के उल्लघंन का आरोप लगाया गया है, जिसको लेकर याचिकाकर्ताओं और सरकारों की ओर से दलीले पेश की जाएंगी। इसके साथ ही नोटबंदी के कारण लोगों की हुई दिक्कतों सहित अन्य मुद्दों पर भी दलीले रखी जाएंगी।
नोटबंदी की घोषणा करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने बताए थे 5 बड़े मकसद
नोटबंदी की घोषणा करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 बड़े मकसद बताए थे, जिसमें :-
-काले धन को खत्म करना
-नकली नोटों को खत्म करना
-बड़े नोटों को कम करना, जिससे काला धन जमा न हो सके।
– आतंकियों व नक्सलियों की कमर तोड़ना।
– देश को कैशलेस बनाते हुए डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देना।

Related posts

Coronavirus 4th Wave: बढ़ते कोरोना केस अब नहीं देंगे टेंशन, जानें एक्सपर्ट्स ने क्यों कही ऐसी बात

Anjali Tiwari

AAP सांसद संजय सिंह राज्यसभा से निलंबित,

Swati Prakash

मतदान के बाद प्रत्‍याशियों ने मोबाइल फोन से बनाई दूरी, घर पर ही आराम

Anjali Tiwari

Leave a Comment