ब्रेकिंग न्यूज़

Google के CEO सुंदर पिचाई पद्म भूषण से हुए सम्मानित,

अमेरीका के सैन फ्रांसिस्को में भारतीय राजदूत तरणजीत सिंह सिंधू ने गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई को पद्म भूषण से सम्मानित किया है। पद्म भूषण भारत के सर्वश्रेष्ठ नागरिक पुरस्कारों में से एक है। इस सम्मान को प्राप्त करने के बाद सुंदर पिचाई ने भारत सरकार के प्रति आभार जताया।

गूगल (Google) के सीईओ सुंदर पिचाई को भारत के सर्वश्रेष्ठ नागरिक पुरस्कारों में से एक माना जाने वाले पद्म भूषण से सम्मानित किया गया है। सुंदर पिचाई को यह पुरस्कार अमेरीका के सैन फ्रांसिस्को में भारतीय राजदूत तरणजीत सिंह सिंधू ने प्रदान किया है। भारतीय राजदूत ने ट्विटर पर सुंदर पिचाई को पद्म भूषण देकर सम्मानित करते हुए तस्वीर शेयर करते हुए लिखा कि सैन फ्रांसिस्को में गूगल और अल्फाबेट के सीईओ सुंदर पिचाई को पद्म भूषण सौंपकर खुशी हुई। सुंदर पिचाई की मदुरै से माउंटेन व्यू तक सुंदर की प्रेरणादायक यात्रा भारत-अमेरिका के बीच आर्थिक और प्रौद्योगिकी संबंधों को मजबूत करती है। सुंदर पिचाई की यह यात्रा भारतीय प्रतिभा की पुष्टि भी करती है। पद्म भूषण से सम्मानित होने पर सुंदर पिचाई ने भी प्रसन्नता जाहिर की है।

भारत मेरा हिस्सा, जहां भी जातां हूं साथ होता हैः सुंदर पिचाई

पद्म भूषण से सम्मानित होने के बाद सुंदर पिचाई ने अपने ब्लॉग में कहा कि वह पद्म भूषण देने और उनकी मेजबानी करने के लिए भारतीय राजदूत संधू और को धन्यवाद देना चाहते हैं। इसके लिए वह भारत सरकार और भारत के लोगों के बहुत अभारी हैं और उनके प्रति सम्मान व्यक्त करते हैं। अपने ब्लॉग में सुदंर पिचाई ने कहा कि भारत उनका एक हिस्सा है। वह जहां भी जाते हैं, इसे अपने साथ ले जाते हैं।

भारत में किए गए बदलाव दुनिया को पहुंचा रहे फायदाः पिचाई

50 वर्षीय सुंदर पिचाई ने कहा कि तकनीकी परिवर्तन की तीव्र गति को देखने के लिए वर्षों में कई बार भारत लौटना आश्चर्यजनक रहा है। डिजिटल भुगतान से लेकर वॉयस टेक्नॉलोजी तक भारत में किए गए बदलाव दुनिया भर के लोगों को फायदा पहुंचा रहे हैं। मैं Google और भारत के बीच महान साझेदारी को जारी रखने की आशा करते हैं क्योंकि हम टेक्नॉलोजी के फायदों को ज्यादा लोगों तक पहुंचाने के लिए मिलकर काम करते हैं।

सुंदर पिचाई ने मंदुरै से तय किया गूगल सीईओ तक का सफर

अपने ब्लॉग में सुंदर पिचाई ने कहा कि वह सौभाग्यशाली हैं कि एक ऐसे परिवार में बड़े हुए, जिसने सीखा और ज्ञान को अर्जित किया। उन्होंने कहा कि उनके माता-पिता ने यह सुनिश्चित करने के लिए बहुत त्याग किया कि उन्हें (सुंदर पिचाई) अपनी रुचियों का पता लगाने के अवसर मिले। बताते चले कि सुंदर पिचाई भारत के मंदुरै के रहने वाले हैं। मंदुरै से वो गूगल के सीईओ तक का उनका सफर कई लोगों के लिए प्रेरणा का स्रोत है।

डिजिटल इंडिया मुहिम की सुंदर पिचाई ने की तारीफ

पद्म भूषण से सम्मानित होने के बाद सुंदर पिचाई ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया की तारीफ की। उन्होंने कहा डिजिटल इंडिया को लेकर उनका नजरिया निश्चित रूप से उस प्रगति के लिए एक मील का पत्थर साबित हुआ है और मुझे गर्व है कि Google ने दो परिवर्तनकारी दशकों में सरकारों, व्यवसायों और समुदायों के साथ साझेदारी करते हुए भारत में निवेश करना जारी रखा है।

Related posts

द्रौपदी मुर्मू के जय जोहार कहते ही संसद के केंद्रीय कक्ष में स्मृति इरानी का रिएक्शन तो देखिए

Anjali Tiwari

पनवेल में ‘बप्पा’ के विसर्जन के दौरान हादसा, 11 लोगों को लगा बिजली का झटका, 2 की हालत गंभीर

Swati Prakash

Maharashtra: विधानसभा में बोले डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस, हां, महाराष्ट्र में है ‘ED’ की सरकार.जिसको जो करना है करो

Anjali Tiwari

Leave a Comment