ब्रेकिंग न्यूज़

Congress President Election: ‘चाह गई चिंता मिटी’- कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस से बाहर होने के बाद दिग्विजय सिंह का ट्वीट

Congress News: दिग्विजय सिंह ने चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर करते हुए नामांकन पत्र के 10 ‘सेट’ लिए थे. हालांकि दिग्विज सिंह आखिरी समय में पीछे हट गए और मल्लिकार्जुन खड़गे के समर्थन का ऐलान कर दिया.

Congress President Election 2022:  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने पार्टी के अध्यक्ष पद की दौड़ से अंतिम समय में पीछे हट जाने का फैसला किया. उन्होंने शुक्रवार को कहा कि वह पार्टी के अध्यक्ष पद का चुनाव नहीं लड़ेंगे, बल्कि अपने सहयोगी मल्लिकार्जुन खड़गे के नामांकन में प्रस्तावक बनेंगे. अब दिग्विजय सिंह ने रहीम का दोहा ट्वीट किया है. मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम ने लिखा, ‘चाह गई चिंता मिटी मनुआ बे परवाह, जाके कछु नहीं चाहिए वे शाहन के शाह.’

बता दें राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गुरुवार को चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा की थी. इसके बाद दिग्विजय सिंह ने चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर करते हुए नामांकन पत्र के 10 ‘सेट’ लिए थे. हालांकि दिग्विज सिंह आखिरी समय में पीछे हट गए और मल्लिकार्जुन खड़गे के समर्थन का ऐलान कर दिया.

दिग्विजय सिंह ने शुक्रवार को अध्यक्ष पद चुनाव के लिए नामंकन के आखिरी दिन कहा, ‘‘ खड़गे जी मेरे नेता व मेरे वरिष्ठ हैं. मैंने कल उनसे पूछा था कि क्या वह चुनाव लड़ना चाहते हैं. उन्होंने इनकार कर दिया था. मैंने आज फिर उनसे मुलाकात की. मैंने उनसे कहा कि अगर वह चुनाव लड़ेंगे तो मैं उनका पूरा समर्थन करूंगा. मैं उनके खिलाफ चुनाव लड़ने की सोच भी नहीं सकता. वह नामांकन दाखिल करेंगे और मैं उनका प्रस्तावक बनूंगा.’’

‘में कुछ चीजों पर कोई समझौता नहीं कर सकता’

दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘‘ मैं जिंदगी में कुछ चीजों पर कोई समझौता नहीं कर सकता. मैं दलित, आदिवासी और अन्य पिछड़े वर्ग से जुड़े मुद्दों पर कोई समझौता नहीं कर सकता. मैं सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वालों के साथ कोई समझौता नहीं कर सकता और गांधी परिवार के साथ अपनी प्रतिबद्धता से कोई समझौता नहीं करता.’’

खड़गे,थरूर, त्रिपाठी ने दाखिल किया नामांकन

गौरतलब है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने शुक्रवार को अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए नामांकन दाखिल किया. उनके अलावा शशि थरूर और केएन त्रिपाठी ने नामांकन पत्र दाखिल किया है. वैसे खड़गे की जीत तय मानी जा रही है. बताया जा रहा है कि उन्हें गांधी परिवार का समर्थन हासिल है.

Related posts

किसान की गर्भवती बेटी को ट्रैक्टर से कुचल दिया

Anjali Tiwari

170 रुपए में इंटरनेशनल ब्रांड का स्टेरायड बनाकर 4500 रुपए में बेचते थे नकली इंजेक्शन

Anjali Tiwari

झारखंड में ‘खेला’, गई CM सोरेन की कुर्सी! ऑफिस ऑफ प्रॉफिट केस में विधायकी रद्द

Anjali Tiwari

Leave a Comment