ब्रेकिंग न्यूज़

ब्रेस्ट कैंसर से जूझ रही महिलाएं के लिए उम्मीद की किरण, ट्रायल में कामयाब हुई ये दवा

ब्रेस्ट कैंसर (Breast Cancer) से जूझ रही महिलाओं के लिए बहुत काम की खबर है. ब्रिटेन में इस बीमारी से निपटने की दवा खोज ली गई है. ब्रिटेन के डॉक्टरों का दावा है कि वहां पर नई दवा के इस्तेमाल से 51 साल की एक महिला का ब्रेस्ट कैंसर ठीक हो गया और अब वह अपनी शादी की 25वीं वर्षगांठ खुशी के साथ मनाने के लिए तैयार है.

वर्ष 2017 में ब्रेस्ट कैंसर का पता चला

मैनचेस्टर के फैलोफील्ड की रहने वाली भारतीय मूल की महिला जैसमिन डेविड को नवंबर 2017 में ब्रेस्ट कैंसर होने का पता चला था. छह महीने तक उनकी कीमोथैरेपी की गई. इसके बाद अप्रैल 2018 में उन्हें मास्टेकटोमी की गई. इसके बाद 15 रेडियोथेरेपी की गईं, जिसके बाद कैंसर (Breast Cancer) खत्म हो गया. हालांकि यह खुशी कुछ ही समय तक रही और अक्टूबर 2019 में कैंसर फिर लौट आया, जिससे उसकी ब्रेस्ट और शरीर का अंदरुनी पार्ट डैमेज होने शुरू हो गए.

बची थी केवल 2 साल की जिंदगी

इस दौरान डॉक्टरों ने उन्हें बताया कि अब उनके पास एक साल से भी कम की जिंदगी बची है. जब उनके पास दो महीने बाद कोई विकल्प नहीं बचा, तब उन्होंने क्लिनिकल ट्रायल में शामिल लेकर रिसर्च का हिस्सा बनने की पेशकश की गई.

रिसर्च ट्रायल में हुईं शामिल

जैसमिन डेविड ने कहा, ‘जब मुझे ट्रायल में शामिल होने की पेशकश की गई, तो मुझे नहीं पता था कि यह मेरे काम आएगा या नहीं. इसके बावजूद मैंने सोचा कि मैं कम से कम अपने शरीर का उपयोग करके दूसरों की मदद और अगली पीढ़ी के लिए तो कुछ कर ही सकती हूं. ट्रायल के शुरू में मुझे सिरदर्द और तेज बुखार समेत कई भयानक साइड इफेक्ट हुए. फिर शुक्र है कि मुझे इलाज का फायदा होता दिखा.’

2 साल तक चला महिला का इलाज

इलाज के दौरान मैनचेस्टर क्लिनिकल रिसर्च फैसिलिटी (सीआरएफ) में 2 साल तक उन्हें एटेजोलिजुमेब के साथ एक दवा दी गई, जो एक इम्यूनोथेरेपी औषधि है. यह दवा सिरींज के जरिए दी जाती है. दो साल तक चले इलाज के बाद डॉक्टरों ने सोमवार को महिला को बताया कि लेटेस्ट टेस्ट में अब उसमें ब्रेस्ट कैंसर (Breast Cancer) का कोई लक्षण नहीं मिला है. यानी कि इलाज के बाद ब्रेस्ट कैंसर खत्म हो गया है.

दवा ने खत्म कर दिया ब्रेस्ट कैंसर

यह खबर सुनने के बाद से महिला बहुत प्रसन्न है. वह अब सितंबर में आने वाली अपनी शादी की 25वीं वर्षगांठ मनाने की तैयारी कर रही है. वहीं परिवार में भी सब लोगों के चेहरे पर खुशी है. डॉक्टरों का कहना है कि अभी इस दवा के और भी ट्रायल होंगे. अगर सभी ट्रायल में यह दवा कामयाब मिलती है तो लाखों महिलाओं की जिंदगी बचाने के लिए यह बहुत बड़ी बात होगी.

Related posts

जासूसी के लिए पाकिस्तान ने फैलाया राजस्थान तक नेटवर्क

Anjali Tiwari

अगले सप्ताह से संविधान पीठ में मामलों की सुनवाई की होगी लाइव स्ट्रीमिंग

Anjali Tiwari

राजू श्रीवास्तव का परिवार फर्जी खबरों से परेशान:

Anjali Tiwari

Leave a Comment