ब्रेकिंग न्यूज़

दिल्ली में ध्वनि प्रदूषण के 23 हॉटस्पॉट, 31 स्थानों पर की जा रही निगरानी, NGT ने सौंपी रिपोर्ट

देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में ध्वनि प्रदूषण एक गंभीर समस्या है, जिसे अपराध की तरह देखा जा रहा है। ध्वनि प्रदूषण के कारणों का पता लगाने के लिए राजधानी क्षेत्र के 31 जगहों पर रियल टाइम एंबिएंट नॉइस मॉनीटरिंग स्टेशन बनाए गए हैं, जिसके जरिए 23 जगहों को ध्वनि प्रदूषण हॉटस्पॉट के रूप में पहचाना गया है। दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (DPCC) ने नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (NGT) को एक रिपोर्ट सौंपी है।

इस रिपोर्ट के जरिए DPCC ने दिल्ली में ध्वनि प्रदूषण के हॉटस्पॉट जगहों के बारे में बताया है। इसके साथ ही उसमें यह भी बताया गया है कि किन इलाकों में कितना शोर रहता है। DPCC ने यह रिपोर्ट स्थानीय निकाय और यातायात पुलिस के साथ भी शेयर की है, जिससे ध्वनि प्रदूषण में नियंत्रित किया जा सके।
ध्वनि प्रदूषण फैलाने वाले हॉटस्पॉट क्षेत्र
DPCC के अनुसार ध्वनि प्रदूषण फैलाने वाले 23 हॉटस्पॉट क्षेत्र में जहांगीरपुरी, अशोक विहार, करोल बाग, कश्मीरी गेट, आनंद विहार, सोनिया विहार, वजीरपुर, मंदिर मार्ग, पंजाबी बाग, मुंडका और रोहिणी शामिल हैं। औद्योगिक, वाणिज्यिक और आवासीय क्षेत्रों में ध्वनि प्रदूषण के लिए अलग-अलग मानक तैयार किए गए हैं, जिसके आधार पर दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति ने यह रिपोर्ट तैयार की है।
जहांगीरपुरी सहित अन्य इलाकों में कितना रहता है अधिकतम शोर
DPCC ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि जहांगीरपुरी स्टेशन ने शुक्रवार को सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे के बीच शोर का स्तर सबसे अधिक होता है। वहीं इंटर स्टेट बस टर्मिनल पर स्थित कश्मीरी गेट के आस पास रात के समय भी शोर का स्तर काफी तेज पाया गया है। इसके साथ ही रिपोर्ट में इसी तरह बताया गया है कि किन इलाकों में कब सबसे ज्यादा शोर रहता है।
26 दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति और 5 केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने स्थापित किए हैं रीयल-टाइम शोर निगरानी नेटवर्क
DPCC ने ध्वनि प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए DPCC ने स्थानीय निकाय और यातायात पुलिस के साथ ध्वनि प्रदूषण हॉटस्पॉट की रिपोर्ट को शेयर किया है। इसके साथ ही दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति ने बताया है कि रीयल-टाइम शोर निगरानी नेटवर्क को और मजबूत करने की आवश्यकता का आकलन करने के लिए एक समिति का गठन किया जा रहा है। शहर में अभी 31 रीयल-टाइम शोर निगरानी स्टेशन हैं, जिसमें से 26 हमने और 5 केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने स्थापित किए हैं।

Related posts

कैंसर से जंग:48 साल की महिमा चौधरी को हुआ ब्रेस्ट कैंसर, अनुपम खेर ने वीडियो शेयर कर किया खुलासा

Anjali Tiwari

बोली- मुन्ना बजरंगी की तरह हो सकती है मेरी हत्या;जेल से बेटे को किया फोन

Anjali Tiwari

दादी अम्मा दादी अम्मा मान जाओ,छोडो जी ये झगड़ा ज़रा हंस के दिखाओ

Anjali Tiwari

Leave a Comment