ड्रोन के बाद पाकिस्तान की नई साजिश, अब आतंकियों के स्टिकी बम से ऐसे निपटेंगे सुरक्षा बलड्रोन के बाद पाकिस्तान की नई साजिश, अब आतंकियों के स्टिकी बम से ऐसे निपटेंगे सुरक्षा बल

आतंकवादी इन दिनों स्टिकी बम का इस्तेमाल कर रहे हैं. इस खतरे से निपटने के लिए सुरक्षा बलों को कुछ निर्देश दिए गए हैं.

c जम्मू कश्मीर में आतंकियों की तरफ से इस्तेमाल किये जाने वाले स्टिकी बम (Sticky Bomb) के खतरे से निपटने के लिए सुरक्षा बलों को निर्देश दिया गया है कि अपने गाड़ियों को लावारिस हालत में न छोड़े और सुरक्षा के लिए तैनात गाड़ियों को इस्तेमाल करने से पहले उनकी गहन छानबीन करें.

पाकिस्तान से आ रहे ये स्टिकी बम 

खुफिया एजेंसियों के मुताबिक पाकिस्तान की ISI बड़ी संख्या में मैग्नेटिक बम (Magnetic Bomb) जिसे स्टिकी बम भी कहा जाता है, उसे आतंकियों तक मुहैया करा रही है पिछले कुछ महीनों में सीमा पार से आ रहे हैं. पाकिस्तानी ड्रोन के जरिए भी ऐसे स्टिकी बम भारतीय सीमा में पहुंचाये गए हैं, जिसका इस्तेमाल आतंकी सुरक्षा बलों पर हमले के साथ-साथ अमरनाथ यात्रा पर भी कर सकते हैं.

गृहमंत्री ने की अहम बैठक 

पिछले दोनों केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कश्मीर की सुरक्षा स्थित पर सभी एजेंसियों के साथ एक अहम बैठक की थी और आतंकी खतरों के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था को कड़ी करने का निर्देश दिया था, जिसके बाद से रॉ, IB और NTRO के साथ मिलकर जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले को विफल करने के लिए व्यापक तैयारियां की गई हैं.

हो रही आतंकी हमले की साजिश 

स्टिकी बम के खतरों को नाकाम करने के लिए गाड़ियों की पुख्ता जांच के साथ आतंकियों के ड्रोन्स के खतरे को नाकाम करने के लिए काउंटर ड्रोन टेक्नोलॉजी की भी मदद ली जा रही है. जम्मू कश्मीर में आतंकी गुट लगातार कश्मीरी पंडितों और अल्पसंख्यक समुदाय से जुड़े लोगों पर हमले कर रहे हैं. पाकिस्तान की ISI बदले रणनीति के तहत जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले की साजिश रच रही है. जिसके तहत पाकिस्तान कश्मीरी युवाओं का ब्रेन वाश कर कश्मीर में आम लोगो को निशाना बनाया जा रहा है.

पाकिस्तान को है सर्जिकल स्ट्राइक का डर 

पाकिस्तान ने इसके लिये लश्कर के प्रॉक्सी TRF के जरिये कश्मीरी पंडितों और नॉन लोकल पर हमले करवा रही है जिससे पाकिस्तान ऐसे किसी भी हमले में अपना नाम आने से बच सके और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दुनिया की आंखों मे धूल झोंका जा सके. पाकिस्तानी सेना कश्मीर में बड़े आतंकी हमले से भी डर रही है. पाकिस्तानी सेना को डर है कि अगर कश्मीर में पुलवामा जैसा हमला होता है तो भारत बालाकोट जैसा एक और सर्जिकल हमला कर सकता है.

लोकल युवाओं को कर रहे भर्ती 

लोकल लेवल पर युवाओं को आतंकी गुटों में भर्ती करने की आतंकियों की साजिश को नाकाम करने के लिए सुरक्षा एजेंसियों को विशेष करवाई करने को कहा गया है. सुरक्षा एजेंसियों से कहा गया है कि कश्मीर में आतंकियों से जुड़ी खुफिया इनपुट को और मजबूत किया जाए और उनकी पहचान कर उनके खिलाफ करवाई की जाए जिससे आतंक को जल्द खत्म किया जा सके.

Sticky Bomb: जम्मू कश्मीर में आतंकियों की तरफ से इस्तेमाल किये जाने वाले स्टिकी बम (Sticky Bomb) के खतरे से निपटने के लिए सुरक्षा बलों को निर्देश दिया गया है कि अपने गाड़ियों को लावारिस हालत में न छोड़े और सुरक्षा के लिए तैनात गाड़ियों को इस्तेमाल करने से पहले उनकी गहन छानबीन करें.

पाकिस्तान से आ रहे ये स्टिकी बम 

खुफिया एजेंसियों के मुताबिक पाकिस्तान की ISI बड़ी संख्या में मैग्नेटिक बम (Magnetic Bomb) जिसे स्टिकी बम भी कहा जाता है, उसे आतंकियों तक मुहैया करा रही है पिछले कुछ महीनों में सीमा पार से आ रहे हैं. पाकिस्तानी ड्रोन के जरिए भी ऐसे स्टिकी बम भारतीय सीमा में पहुंचाये गए हैं, जिसका इस्तेमाल आतंकी सुरक्षा बलों पर हमले के साथ-साथ अमरनाथ यात्रा पर भी कर सकते हैं.

गृहमंत्री ने की अहम बैठक 

पिछले दोनों केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कश्मीर की सुरक्षा स्थित पर सभी एजेंसियों के साथ एक अहम बैठक की थी और आतंकी खतरों के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था को कड़ी करने का निर्देश दिया था, जिसके बाद से रॉ, IB और NTRO के साथ मिलकर जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले को विफल करने के लिए व्यापक तैयारियां की गई हैं.

हो रही आतंकी हमले की साजिश 

स्टिकी बम के खतरों को नाकाम करने के लिए गाड़ियों की पुख्ता जांच के साथ आतंकियों के ड्रोन्स के खतरे को नाकाम करने के लिए काउंटर ड्रोन टेक्नोलॉजी की भी मदद ली जा रही है. जम्मू कश्मीर में आतंकी गुट लगातार कश्मीरी पंडितों और अल्पसंख्यक समुदाय से जुड़े लोगों पर हमले कर रहे हैं. पाकिस्तान की ISI बदले रणनीति के तहत जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले की साजिश रच रही है. जिसके तहत पाकिस्तान कश्मीरी युवाओं का ब्रेन वाश कर कश्मीर में आम लोगो को निशाना बनाया जा रहा है.

पाकिस्तान को है सर्जिकल स्ट्राइक का डर 

पाकिस्तान ने इसके लिये लश्कर के प्रॉक्सी TRF के जरिये कश्मीरी पंडितों और नॉन लोकल पर हमले करवा रही है जिससे पाकिस्तान ऐसे किसी भी हमले में अपना नाम आने से बच सके और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दुनिया की आंखों मे धूल झोंका जा सके. पाकिस्तानी सेना कश्मीर में बड़े आतंकी हमले से भी डर रही है. पाकिस्तानी सेना को डर है कि अगर कश्मीर में पुलवामा जैसा हमला होता है तो भारत बालाकोट जैसा एक और सर्जिकल हमला कर सकता है.

लोकल युवाओं को कर रहे भर्ती 

लोकल लेवल पर युवाओं को आतंकी गुटों में भर्ती करने की आतंकियों की साजिश को नाकाम करने के लिए सुरक्षा एजेंसियों को विशेष करवाई करने को कहा गया है. सुरक्षा एजेंसियों से कहा गया है कि कश्मीर में आतंकियों से जुड़ी खुफिया इनपुट को और मजबूत किया जाए और उनकी पहचान कर उनके खिलाफ करवाई की जाए जिससे आतंक को जल्द खत्म किया जा सके.

LoC और IB पर रखी जाएगी नजर

केंद्र सरकार अमरनाथ यात्रा और कश्मीर में सुरक्षा स्थित को और मजबूत करने के लिए अर्द्ध सैनिक बलों की तैनाती बढ़ाएगी. आने वाले दिनों में अर्द्धसैनिक बलों की 400 कंपनियों को तैनात किया जायेगा. जम्मू कश्मीर पुलिस के SHOs को कहा जायेगा कि वो माइग्रेंट लेबर और नॉन-लोकल की सुरक्षा को मजबूत करे. पाकिस्तान की तरफ से ड्रोन्स के जरिये मैगनेट बम और विस्फोटकों को भारतीय सीमा में भेजने की पाकिस्तान की साजिश को नाकाम करने के लिए BSF और सेना से कहा गया है कि वो LoC और IB पर पाकिस्तान की तरफ से होने वाले हर हरकत पर नजर रखे.

LoC और IB पर रखी जाएगी नजर

केंद्र सरकार अमरनाथ यात्रा और कश्मीर में सुरक्षा स्थित को और मजबूत करने के लिए अर्द्ध सैनिक बलों की तैनाती बढ़ाएगी. आने वाले दिनों में अर्द्धसैनिक बलों की 400 कंपनियों को तैनात किया जायेगा. जम्मू कश्मीर पुलिस के SHOs को कहा जायेगा कि वो माइग्रेंट लेबर और नॉन-लोकल की सुरक्षा को मजबूत करे. पाकिस्तान की तरफ से ड्रोन्स के जरिये मैगनेट बम और विस्फोटकों को भारतीय सीमा में भेजने की पाकिस्तान की साजिश को नाकाम करने के लिए BSF और सेना से कहा गया है कि वो LoC और IB पर पाकिस्तान की तरफ से होने वाले हर हरकत पर नजर रखे.

Related posts

इस स्वदेशी मिसाइल के आगे थर-थर कांपेगा चीन! रडार को चकमा देकर हवा में करेगी दुश्मन का सफाया

Anjali Tiwari

Rakhi Urfi Video: उर्फी जावेद के साथ देर रात पार्टी में राखी सावंत ने कर दी ऐसी हरकत, संभाले नहीं संभली उर्फी की ड्रेस

Anjali Tiwari

इंस्टाग्राम चलाने वाली सातवीं की लड़की प्रेगनेंट हुई, तीन दोस्तों पर केस दर्ज… बच्चा किसका… पता लगाएगी पुलिस

Swati Prakash

Leave a Comment